Ghunghat me tujhe dekha

Ghunghat me tujhe dekha

घुंघट में तुझे देखा तो दीवाना हुआ ,

संगीत का तराना हुआ ,

शमा का परवाना हुआ ,

मस्ती से मस्ताना हुआ ,

जैसे ही घूँघट उठाया तो ….

इस दुनिया से रवाना हुआ .